Trending Topics

इंदौरी तड़का : भिया इंदौर के लोगो में संस्कार कूट-कूट के भरा होता है

  • March 02, 2017
  • OMG!
indori tadka indore people are very Cultured

इंदौरी तड़का : हां भिया कल से तो पेपर्स शुरू हो गए है दसवी और बारहवीं वालो के। भिया अब इनको देखो आप पुरे के पुरे संस्कारी बच्चे आपको इंदौर में ही मिलेंगे। सब अपने मम्मी पापा का आशीर्वाद लेके ही घर से निकलेंगे इस उम्मीद से की पुरे साल तो कुछ पढाई नी की है, तो मम्मी पापा के आशीर्वाद से ही पास हो जाएंगे। भिया अब आप ही बताओ ऐसा भी कोई होता है क्या ? मतलब साला पुरे साल झक मारी, लप्पासी की, और अब मम्मी पापा के पैर छू लिए तो इनको लग रिया है ये पास हो जाएंगे। अब देखना ये है की होता क्या है। और अगर अपन बात करें इंदौर के लोगो में संस्कार की तो बड़े संस्कार तो ऐसे भरा पड़ा है लोगो में की क्या बतऊ। यहाँ पे अगर भोत दुरी पे भी कोई जान पेचान वाला दिख जाए तो लोग चिल्लाना शुरू कर देते है भिया राम, भिया जय महाकाल, भिया किधर। 

यहाँ पे लोगो को हमेशा भिया, बड़े, छोटे, बारीक, चम्पू, साले, भई,कमीने, चुड़ैल, कुतिया, कमीनी, भेन, इन सब शब्दो से समान के साथ बुलाया जाता है। मतलब भिया जित्ते संस्कारी लोग आपको यहाँ पे मिलेंगे ना उत्ते कहीं और मिल जाए तो बता दियो। यहाँ पे सिर्फ जब भी रिश्तेदार घरों में आते है ना तो बच्चे सबसे पेले उनके पैरो के सामने गिर पड़ते है सिर्फ और सिर्फ उनके आशीर्वाद के लिए, लेकिन ये पैर पडने का मतलब ये होता है की जब वो जाने लगे तो 50-100 रुपए देके ही जाए। यहाँ पे अगर स्कूल का टीचर सड़क के किसी किनारे दिखा जाता है और अगर वो उनकी सुन्दर कन्या के साथ होता है तो आप देखो लड़को का सारा संस्कार उमड़ उमड़ के बाहर आने लगता है। भिया इंदौर किसी बी मामले में पीछे नी है फिर वो संस्कार हो या अपमान। आज संस्कार की बात कर ली अब कल अपमान को थोड़ा निपटा लेंगे।

इंदौरी तड़का : तो बोलो हर हर हर... !

इन्दौरी तड़का : अबे अबी तो इस गाड़ी पर तीन और आ जाएंगे

इन्दौरी तड़का : भण्डारा कहाँ पे हो रिया है? ऐसे-ऐसे वर्ड्स सर्च करते है गूगल पे इंदौरी लोग

इन्दौरी तड़का : बड़े, यहां पे लड़कियां बी करती है माँ-भेन !

 

You may be also interested

1