Trending Topics

इंदौरी तड़का : भिया अब इंदौर में पानी के लिए भेँकर मगजमारी होएगी

indori tadka : people fighting for water

इंदौरी तड़का : भिया इंदौर हो और पानी के लिए मगजमारी ना हो ऐसा हो ही नी सकता। अपने इंदौर में पानी एक लिए जीती मगजमारी होती है ना कई और हो जाए तो बताओ। बड़े इंदौर में पानी के लिए लोगों जान तक देने को तैयार बैठे रेते है। पानी की काईन लेके दूर दूर तक जाते हो और एक साथ दो दो तीन तीन दिन का पानी लेके आते है।  लेकिन सच्ची बोलू इनसे बी इनका पेट थोड़ी भरता है ये लोग रोज के रोज पोच जाते है पानी लेने को। भिया ये इंदौर है यहाँ पे पानी की एक एक बून्द के लिए लोग तलवार लेके लड़ने को लग जाते है। पानी को यहाँ पे भगवान माना जाता है कसम से।  पानी के लिए लोग लौट लगाने तक को तैयार रेते है। तुम यहाँ पे जिधर देखो उधर लोग डब्बा लेके नाचते नजर आएँगे पानी के लिए। पानी में यहाँ के लोगो की जान बसी है कहीं पर एक लौटा पानी बी इनको मिल जाए ये ऐसे भगेंगे की जैसे सोने का खजाना हाथ लग गया हो।

और अब तो बड़े गर्मी बी आ गई है गर्मी में सबसे जादा लाले पड़ते है यहाँ पे पानी के। गर्मी में लोग रीगल, चोइथराम, राजबाड़े, पलासिया सब जगे पे डिब्बा लेके घूमने निकल जाते है और जहाँ से मिलता है वहीँ से भर लाते है। बड़े पानी के लिए यहाँ पे लोग जित्ता रोते है ना उत्ता तो मेरेको नी लगता की कम पड़ता होएगा। मतलब फ़ालतू में ही नाटक करते है लोग बी। नी नी करके बी घर में दस दस  भगोने भरे होंगे पानी के। भिया कोई नी सब पता है ये लोगो के नखरे हमको। 

Recent Stories

1