Trending Topics

कहाँ से शुरू हुआ था Ripped Jeans का फैशन, जानिए यहाँ

Ripped Jeans History

इन दिनों सभी जगह एक ही मुद्दा चल रहा है और वह है Ripped Jeans। आप सभी जानते ही होंगे Ripped Jeans का फैशन कई सालों से बना हुआ है। लेकिन हाल ही में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री, तीरथ सिंह रावत ने फटी हुई जीन्स पहनने वाली एक महिला को संस्कार के विरुद्ध बताया। जी दरअसल उन्होंने हाल ही में कहा, 'ऐसी महिलाएं समाज पर बुरा प्रभाव डालती हैं।' कई लोगों को CM रावत का ये बयान अच्छा लगा तो कई लोगों को नहीं। वैसे ट्विटर पर #RippedJeans भी जमकर ट्रेंड हुआ और अब भी ट्रेंड कर रहा है। देखते ही देखते महिलाएं रीप्ड जीन्स पहनें अपनी तस्वीरें डालने लगीं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये Ripped Jeans आज का फ़ैशन नहीं है बल्कि इसकी शुरुआत साल 1970 के समय हुई थी। 

इसकी शुरुआत Punk Culture के दौरान शुरू हुई थी। जी दरअसल Punk Culture साल 1970 के दशक में यूनाइटेड किंगडम में शुरू हुआ था। इस दौरान सत्ता-विरोधीवाद, ख़ुद के मन की करना, भ्रष्टाचार से रहित, नौकरशाही में न दबना, हमेशा से चले आ रहे सामाजिक मानदंडों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाना जारी रहा था। वहीं इस दौरान जो आंदोलन चला उसमे फ़ैशन ने एक ख़ास भूमिका निभाई। उस समय T-shirts, चमड़े की जैकेट, बूट्स, बालों को रंगना, कॉस्मेटिक, टैटू ये सब काफ़ी ट्र्रेंड करने लगे क्योंकि एक तरह से यह कपड़े और ऐसा रहन-सहन समाज के बनाए नियमों के विरुद्ध था। 

इन सभी में सबसे बड़ा निशाना जो बनी वह Denim या Jeans रही। इस दौरान समाज के ख़िलाफ़ ग़ुस्सा दिखाने के लिए युवा फटी हुई जीन्स पहनने लगे, वहीं इससे पहले फटी हुई जीन्स श्रमिक वर्ग को दर्शाती थी जो नई जीन्स नहीं ख़रीद सकते थे। उस दौरान उत्तरी अमेरिका में फटी हुई जीन्स फ़ैशन में आ गईं। देखते ही देखते अमेरिकी म्युज़िशन Iggy Pop ने ये ट्रेंड शुरू किया। वहीं 90 के दशक में आते-आते Ripped Jeans दुनियाभर में पहना जाने लगा और यह आज भी पहना जा रहा है।

इस पांच फिट लंबी थाली में क्रिकेटर्स के नाम पर हैं पकवानों के नाम, 1 घंटे में खत्म करने पर मिलेगी बुलेट

आखिर क्यों अपने हाथ रगड़ती हैं मक्खियां, सोचा है कभी?

आखिर क्यों शुक्रवार को ही रिलीज होती हैं फ़िल्में

 

You may be also interested

Recent Stories

1