Trending Topics

आख़िर क्यों लता मंगेशकर का नाम 'गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' से हटा दिया गया?

What happened when Lata Mangeshkar name was removed guinness world records

बॉलीवुड की मशहूर सिंगर लता मंगेशकर को आज कौन नहीं जानता. लता मंगेशकर ने अपनी आवाज से लाखों दिलों को अपने नाम किया है. वह सभी के दिलों में बसती हैं. वैसे लता मंगेशकर को आज 'स्वर कोकिला' के नाम से भी जाना जाता है. अब तक वह 25,000 से अधिक गाने गा चुकी हैं और उनके इन्ही गानों को लेकर एक विवाद भी हुआ था. जी दरअसल लता मंगेशकर ने साल 1974 में सबसे अधिक गाने गाने वाली गायिका के तौर पर 'गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' में अपना नाम दर्ज कराया था. 

इसी बीच बताया गया था कि लता मंगेशकर ने सन 1948 से 1974 तक सोलो, ड्यूट और कोरस सिंगर के तौर पर लगभग 25,000 गाने गाये हैं, यह संख्या 20 से अधिक भारतीय भाषाओं को मिलाकर बताई गयी थी. यह सब होने के बाद बॉलीवुड के एक और मशहूर सिंगर मोहम्मद रफ़ी ने भी 'गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' को पत्र लिखकर दावा कर दिया कि ''उन्होंने सोलो, ड्यूट और कोरस सिंगर के तौर पर 28,000 गाने गाये हैं.''

वहीं गिनीज़ बुक के दूसरे एडिशन के आने से पहले ही सन 1980 में रफ़ी साहब का निधन हो गया. यह सब होने के बाद साल 1987 में जब 'गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' का नया एडिशन आया तो उसमें मोहम्मद रफ़ी के नाम के साथ लता मंगेशकर का नाम भी शामिल था. आपको बता दें कि मोहम्मद रफ़ी के निधन के बाद भी लता मंगेशकर लगातार गाने गा रहीं थी. ऐसे में उनका कहना था कि साल 1990 तक उनके गानों की संख्या 30,000 को पार हो चुकी थी.

अंत में साल 1990 में ही लता मंगेशकर के इन रिकॉर्ड्स पर विवाद शुरू होने लगा. ऐसा इसलिए क्योंकि ये रिकॉर्ड्स फ़िल्मी पत्रिका, आर्टिकल्स, न्यूज़ आदि को आधार बनाकर दर्ज किए गये थे, लता मंगेशकर के पार इस संबंध में कोई भी प्रामाणिक और लिखित विवरण उपलब्ध नहीं थे. ऐसे में 'गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' ने लता मंगेशकर को उनके द्वारा गाए गए गानों के प्रमाण और तथ्य प्रस्तुत करने के लिए कहा लेकिन लता मंगेशकर ऐसा ना कर सकी. इसके चलते 'गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' ने साल 1991 के एडिशन में लता मंगेशकर और मोहम्मद रफ़ी दोनों का ही नाम हटा दिया. 

ये थीं LUX साबुन का Ad करने वाली सबसे पहली अभिनेत्री

इस गाँव में एक भी व्यक्ति नहीं है कोरोना संक्रमित, महिलाएं हैं वजह

ग़रीबों के लिए मसीहा है स्कूटर पर लंगर बांटने वाला यह आदमी

 

Recent Stories

1