Trending Topics

क्या होता है 'RIP' का अर्थ, कहाँ से आया ये शब्द?

rip HISTORY

आप सभी ने सुना या पढ़ा या देखा होगा कि जब कोई मर जाता है तो लोग ट्विटर, फ़ेसबुक से लेकर इंस्टाग्राम-Whatsapp स्टेटस तक 'RIP' शब्द लिख देते हैं. आज के समय में हर कोई किसी के गुज़र जाने पर RIP का मैसेज सबसे पहले भेजता है. इस लिस्ट में आप भी शामिल होंगे लेकिन आज क्या आप जानते हैं कि ये RIP शब्द आया कहाँ से और इसका मतलब क्या होता है?

 

जी दरअसल RIP एक Acronym है जिसका Full-Form होता है - Rest In Peace. यह लैटिन वाक्यांश (Phrase) Requiescat In Pace से आया है, जिसका अर्थ होता है - शांति से सोना,  और इस संदर्भ में - आत्मा को शांति मिले. वहीं पारंपरिक ईसाई सेवाओं और प्रार्थनाओं में RIP शब्द का इस्तेमाल किसी दिवंगत व्यक्ति की आत्मा की आराम और शांति की कामना के लिए होता आया है. आप सभी को बता दें कि 18वीं शताब्दी में मृतकों की कब्र पर रखे जाने वाले पत्थर पर RIP लिखवाना आम चलन था जो आज तक जारी है.

आप सभी को बता दें कि RIP एक प्रार्थनापूर्ण अनुरोध है कि मृत व्यक्ति की आत्मा को परलोक में शांति मिले. यह उस ईसाई धारणा से जुड़ा है जिसके अनुसार मृत्यु पर आत्मा शरीर से अलग हो जाती है, लेकिन ये आत्मा और शरीर Judgment Day के दिन फिर से मिल जाएंगे. 5वीं शताब्दी में कब्रों पर RIP या Requiescat In Pace शब्द के उल्लेख मिलते हैं. सबसे पहले इसका अर्थ ये होता था कि कोई व्यक्ति चर्च की शांति में स्वर्ग सिधार गया है और एक दिन जीसस क्राइस्ट से उसकी आत्मा का मिलान होगा. वहीं देखते ही देखते इस शब्द का खूब प्रयोग होने लगा.

2.50 लाख रूपए किलो बिकता है ये समुद्री खीरा

आखिर क्यों नोट पर लिखा रहता है 'मैं धारक को…रुपये अदा करने का वचन देता हूं'?

 

You may be also interested

1