Trending Topics

8 चीजें जो कभी न शेयर करे, न दोस्तों से न ही रिश्तेदारों से

8 Things You Should Never share with anyone

ये तो हम सबको पता है की हमें दुसरो की चीजों को इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. जैसे टूथब्रश, कोंब. ये सारी चीजे पर्सनल होती है जो सबके पास अपनी अपनी होनी चाहिए. पर ऐसी बहुत और भी वस्तुएँ जिन्हे हम कभी कभी दुसरो से मांग कर उसका उपयोग करते है या अपनी चीजों  को दुसरो को इस्तेमाल करने के लिए  देते है. जो हमे कभी नहीं करना चाहिए. आज हम आपको बतायेगे ऐसी वस्तुएँ जिनके एक से ज़्यादा मालिक होते है. इसके साथ ही हम इन वस्तुओ से जुड़े कुछ टिप्स भी शेयर करेंगे. तो चलिए देखते है :-

लिपस्टिक

अगर आपकी दोस्त अपना मेकअप किट आपके घर भूल गयी है, तो क्या ठीक होगा की आप उसकी लिपस्टिक यूज़ करे? असल में आप को ऐसा नहीं करना चाहिए, आप हर्पीस जैसी फैलने वाली खतरनाक बीमारी का शिकार हो सकती हैं. अगर आप किसी की लिपस्टिक और लिप ग्लॉस यूज़ करती हैं. ऐसा कोई ज़रूरी नहीं है की आप उस बीमारी का शिकार तभी हो जब आप की दोस्त को भी लिप्स पे ये प्रॉब्लम हो, अगर उसके वायरस उसके मुँह के मुकुस मेम्ब्रेन और सलाइवा में हो तो आप भी इस से प्रभावित हो सकती हैं.

वर्तमान समय में इसका कोई भी 100% क्योर नहीं है. इन्फेक्शन हो जाने पर आप उस लिपस्टिक को यूज़ करना बंद करदें और कोई भी कॉस्मेटिक यूज़ न करें. इन्फेक्शन ठीक हो जाने पर एक नया फ्रेश मेकअप किट खरीदें. इस इन्फेक्शन से बचने के लिए आप लिपस्टिक को यूज़ करने के बाद उसकी ऊपरी लेयर को टिस्सू से क्लीन करती रहा करें.

इयरफोन

हम सभी के कान एक दूसरे से अलग होते हैं. प्रत्येक कान का वैक्स एक दूसरे से अलग अलग होता है. जब कभी भी हम किसी और का इयरफोन यूज़ करते है हम उस बैलेंस को डिस्ट्रब करते हैं. जिस से हम इन्फेक्शन को जन्म देते हैं.

आप बहुत ही आसानी से ईरफ़ोन से वैक्स को साफ कर सकते है. आप स्टिक में कॉटन लगाकर उसे को हाइड्रोजन पेरोक्साइड में डुबो कर क्लीन करें. बहुत ज़्यादा लिक्विड लगाना भी नुकसानदायक हो सकता है. ये आपके स्पीकर्स को खराब कर सकता है. हफ्ते में एक बार अपने ईरफ़ोन को ज़रूर साफ़ करें.

कोंब

ये तो हम सभी जानते है की कोंब शेयर करना कोई अच्छी बात नहीं है. पर क्या हमने कभी सोचा है की रबर बैंड, हेयर बैंड भी नहीं शेयर करना चाहिए. इन बातो के ध्यान न देने से आप के स्क्लेप में फंगी एंड लिके जैसी बीमारिया हो सकती है तो आप अपने प्रति जागरूरक हो जायें.

डिओड्रेंट

यहाँ तक की डिओड्रेंट जिनमे एंटीबैक्टीरियल तत्व होते है, मगर जब ये आपके स्किन के संपर्क में आते है जो की बैक्टीरिया पैदा होते हैं. आखिर हमारे स्किन से पसीने में बदबू बैक्टीरिया से ही आती है. शावर लेने के तुरंद बाद डिओड्रेंट का यूज़ करना चाहिए. क्योकि इस समय आप की स्किन साफ़ होती है पसीना और बैक्टीरिया भी नहीं होते हैं. अगर दिन में दोबारा इसे यूज़ करना चाहते है तो पहले इस्तेमाल वाली जगह को टिश्यू से क्लीन करे फिर डिओड्रेंट का इस्तेमाल करे.

You may be also interested

Recent Stories

1