Trending Topics

इनसे बहुत डरता था रावण, लेकिन वो राक्षस नहीं था

How did bali defeat Ravana Whats the story

हम सभी जानते है की आज दशहरा है और आज ही के दिन भगवान राम ने लंकेश रावण का दहन किया था। आज के दिन को दशहरे के नाम से मनाया जाता है। ऐसे में आज हम आपको रावण के बारे में कुछ ऐसी बातें बताने जा रहें है जो शायद आपको किसी ने बताई ना हो। जी हाँ आइए जानते है।

क्या आपको पता है की रावण किष्किंधा महाराजा बाली से बहुत डरता था।  दरअसल एक बार रावण ने महाराज बाली को युद्ध के लिए ललकारा था और उसके बाद युद्ध में महाराज बाली ने रावण को अपनी कांख में दबा लिया था जो दस महीने तक दबाए हुए थे इस दौरान रावण ने उनसे छूटने के कई प्रयास की थे लेकिन वो असफल रहा था और अंत में उसने बाली से मित्रता का प्रस्ताव रख अपने आपको मुक्त करवाया था।

आप सभी को बता दें की रावण का असली नाम रावण नहीं दशग्रीव  था कई लोग उन्हें दसकंठी भी कहते थे। आपको बता दें की रावण को छह दर्शन औऱ चार वेदों का संपूर्ण ज्ञान था और पद सर्वोत्तम होने की वजह से उसका नाम रावण पड़ गया।

आपको शायद पता न हो की रावण राक्षस नहीं था वह इस प्रजाति का ही नहीं था। रावण के दादाजी पुलत्सय ब्रह्मा जी के दस पुत्रों में से एक माने गए है और इसे माने तो रावण देव हुआ राक्षस नहीं। रावण राक्षस अपने कर्मो और अहंकार की वजह से बना।

Dussehra Special : ऐसे बना सकते है घर पर ही दशहरे का रावण

इन 5 जगहों पर नहीं होता रावण दहन, की जाती है रावण की पूजा

इन्दौरी तड़का : हाँ बावा अब तो हर गली में रावण जलेगा

इन्दौरी तड़का : बड़े आज बुराई पे अच्छाई की जीत का जश्न होवेगा

 

You may be also interested

Recent Stories

1