Trending Topics

14 जनवरी को है मकर संक्रांति, जानिए क्यों मनाते हैं पर्व

Makar Sankranti celebration reason

हर साल मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाता है और यह पर्व 14 जनवरी को मनाया जाता है। इस पर्व को बहुत ही धूम धाम से मनाते हैं। आप सभी जानते ही होंगे यह पर्व खिचड़ी के नाम से भी मशहूर है और इस दिन लोग दान देते हैं जिसका बहुत बड़ा महत्व है। वैसे आज हम मकर संक्रांति से पहले आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर क्यों मनाते हैं यह त्यौहार।

मकर संक्रांति

कहते हैं पौष के महीने में जब सूर्य धनु राशि को छोड़कर मकर राशि में प्रवेश करता है तभी हिन्दू मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाता है। जी दरअसल मकर संक्रांति के दिन से ही सूर्य की उत्तरायण गति हो जाती है इस वजह से इस त्यौहार को कहीं कहीं उत्तरायणी भी कहा जाता है।

ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान सूर्य अपने पुत्र शानि से मिलने के लिए उनके घर जाते हैं और शनि देव मकर राशि के स्वामी हैं इस वजह से इस पर्व को मकर संक्रांति के नाम से पुकारा जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन जितना भी जप, तप और दान किया जाए वह कम है और ऐसा करने का विशेष फल भी मिलता है। वैसे इस दिन दिया हुआ दान 100गुना बढ़कर फल देता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन तिल और गुड़ का दान करना सबसे अहम और सबसे ख़ास शुभ होता है। जो यह दान करते हैं उनके जीवन में संकट कभी नहीं आते हैं और उनका जीवन सुखमय हो जाता है।

जयपुर में मिली 16वीं सदी में बनी मीनार

13 जनवरी को है लोहड़ी, जानिए क्यों मनाया जाता है पर्व

 

1