Trending Topics

ये मशरूम प्लास्टिक खाता है

plastic eating mushroom discovered

आज तक आप सभी ने कई प्रकार के मशरूम के बारे में सूना ya पढ़ा होगा. अब आज हम आपको एक ऐसे मशरूम के बारे में बताने जा रहे हैं जो प्लास्टिक खाता है. आप जानते ही होंगे साल 1950 के बाद से अब तक धरती पर इंसानों ने 9 बिलियन टन यानी 816 करोड़ किलोग्राम प्लास्टिक बनाया है. ऐसे में केवल 9 फीसदी ही रिसाइकिल किए गए. वहीं 12 फीसदी जलकर राख हो गए. अब बाकी के बचे हुए 79 फीसदी प्लास्टिक न तो जले न ही रिसाइकिल हो सके. यह प्रकृति के लिए एक बड़ा खतरा है. अब इस बीच वैज्ञानिकों ने एक ऐसा मशरूम खोजा है जो प्लास्टिक खाता है.

यह प्लास्टिक खाकर जैविक पदार्थ बनाता है. ऐसा कहा जा सकता है कि आगे चलकर प्लास्टिक से निजात मिल सकती है. इस मशरूम का नाम पेस्टालोटियोप्सिस माइक्रोस्पोरा बताया गया है. यह मशरूम प्लास्टिक बनाने वाले पदार्थ पॉलीयूरीथेन को खाकर जैविक पदार्थ में बदल देता है. और यह सब होता है प्राकृतिक तरीके से. अब इसे देखकर यह कहा जा सकता है कि भविष्य में प्लास्टिक के कचरे से मुक्ति पाने के लिए इस मशरूम का उपयोग ज्यादा से ज्यादा किया जा सकता है.

वहीं दूसरी तरफ पर्यावरणविदों का मानना है कि अगर इस मशरूम को प्लास्टिक के कचरे के ऊपर पैदा किए जाए तो कुछ ही समय में वहां पर ढेर सारा जैविक पदार्थ जमा हो जाएगा, जिसका उपयोग खाद के तौर पर किया जा सकता है. ऐसा इसलिए  क्योंकि यह मशरूम एक प्राकृतिक कंपोस्ट की तरह काम कर रहा है और यह हमारी धरती की सफाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

You may be also interested

Recent Stories

1