Trending Topics

इंदौरी तड़का : बड़े उधारी लेके वापस देने का यहाँ पे कोई रूल नी है

  • July 15, 2017
  • OMG!
indori tadka indori people like to take borrow

Indori Tadka : हाँ बड़े यहाँ पे लोग उधार तो ले लेंगे लेकिन जब चुकाने की बारी आएगी तो भूल जाएंगे की आप हो कौन।  बड़े यहाँ पे सब ऐसे ही है उधार लेने को कोई मना नी करेगा पन चुकाने में सबकी फट के हाथ में आ जाती है। भिया यहाँ पे कोई ऐसा नी है जो उधार चुकाने को लेके एक बार में मान जाए। सब लेके भग्ग जाते है और फिर तुम उनको ढूंढते ही रे जाओ कहीं नई मिलने वाले वो लोग। बावा उधार का सबसे ज्यादा मैटर अगर कहीं पाया जाता है तो वो यहीं पे पाया जाता है यहाँ के लोग उधार लेने में कबि पीछे रे ही नी सकते तुम दो वो लेंगे, और फिर तुम मांगो वो किसी बी कीमत पे नी देंगे। बड़े यहाँ के आधे लोगो की तो ज़िंदगी ही उधार पे चल री है रोज उधार ले ले के ही काम चला लेते है कमाने की जरूरत ही नी पड़ती है और जब चुकाने का टेम आता है तो ऐसे फुर्र हो जाते है जैसे कोई चिड़ियाँ उड़ गई है।

यहाँ पे लोग सिर्फ पडोसी ही नी, दुकानदार, रिश्तेदार, दोस्त, बॉस, मालिक सबसे उधार लेके रखता है। उधारी का ही जावन है बड़े कुछ नी रखा है। कसम से जीतता लोग उधारी में जीवन काट रिए है उत्ता कमा के काट ले तो गलत कहाँ से होगा। बड़े इंदौर के हर एक घर को छोड़कर दूसरे घर में उधारी से सामान आता है और उधारी से ही घर चलता है। यहाँ पे हर एक घर का खर्च उधारी से ही चल रिया है क्या बताओ अब यहां है हाल। मेरेको तो लगता है इंदौरियों को उधारी चुकाने में तो कोई मजे नी लेकिन लेने में और उड़ाने में भोत मजे आते है। 

इन्दौरी तड़का : बड़े इंडिया और इंदौर की भाषा में भोत फर्क होता है 

इन्दौरी तड़का : बड़े भोले के भक्त इंदौर में जमावड़ा लगाएंगे अब

इन्दौरी तड़का : बड़े इंदौर के लोग अपने फ़ोन से दूर रे ही नी सकते

 

You may be also interested

1