Trending Topics

22 अगस्त को है राखी, जानिए आखिर क्यों मनाते हैं यह त्यौहार

WHY WE CELEBRATE Raksha Bandhan

हर साल मनाया जाने वाला राखी का पर्व इस साल 22 अगस्त को मनाया जाने वाला है। राखी के पर्व के दिन हर बहन अपने भाई को राखी बांधती हैं और भाई उसके बाद उसकी रक्षा का वचन देता है। इसी दिन बहन भाई की कुशलता और सफलता की कामना करती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर क्यों मनाया जाता है राखी का त्यौहार? आज हम आपको बताते हैं आखिर क्यों मनाते हैं राखी का त्यौहार।

आखिर क्यों मनाते हैं राखी का त्यौहार

भविष्‍यपुराण में लिखा हुआ है सतयुग में वृत्रासुर नाम का एक असुर हुआ। उसने अपने साहस और पराक्रम के बलबूते देवताओं को पराजित कर स्‍वर्ग पर अधिकार कर लिया। वृत्रासुर को यह वरदान था कि वह किसी भी अस्‍त्र-शस्‍त्र से पराजित नहीं होगा। इसके चलते देवराज इंद्र उससे बार-बार हार जाते थे। तभी महर्षि दधीचि ने अपने शरीर का परित्‍याग किया और उनकी हड्डियों से इंद्र का अस्‍त्र वज्र बनाया गया।

इसके बाद इंद्र अपने गुरु बृहस्‍पति के पास पहुंचे और बताया कि वह वृत्रासुर से युद्ध करने जा रहे हैं। यदि विजयी हुए तो ठीक अन्‍यथा वीरगति को प्राप्‍त होकर ही लौटेंगे। इन सारी बातों को सुनकर देवराज की पत्‍नी देवी शची ने अपने तपोबल से अभिमंत्रित करके एक रक्षासूत्र बनाया और उसे देवराज इंद्र की कलाई पर बांध दिया। जिस दिन शची ने इंद्र की कलाई पर रक्षासूत्र बांधा था वह श्रावण मास की पूर्णिमा का दिन था। देवराज विजयी हुए और उन्‍होंने यह वरदान दिया कि इस दिन जो भी व्‍यक्ति रक्षासूत्र बांधेगा, वह दीघार्यु और विजयी होगा। इसके बाद से रक्षासूत्र बांधने की परंपरा शुरू हुई जो देवी लक्ष्मी और राजा बलि के रक्षाबंधन से भाई बहन का त्योहार बन गया।

आखिर क्यों 15 अगस्त को उड़ाई जाती है पतंग

आखिर क्यों भोले बाबा को नहीं चढ़ती हल्दी?

क्या सच में टूथपेस्ट में मिलाते हैं हड्डियों का चूरा, जानिए सच?

 

You may be also interested

1