Trending Topics

दुनिया की सबसे साफ़ नदी, जहां बोट शीशे पर तैरती दिखती है

Cleanest River Umngot

दुनियाभर में कई ऐसी जगहें हैं जो बहुत सुंदर है। ऐसे में आप सभी मेघालय तो गए ही होंगे। खैर आज हम बात कर रहे हैं यहाँ की उमनगोत नदी की जिसे देश की सबसे साफ नदी कहा जाता है। इसका पानी इतना साफ है कि नावें कांच पर तैरती सी नजर आती हैं। जी हाँ, मिली जानकारी के तहत यह शिलांग से 85 किमी दूर भारत-बांग्लादेश सीमा के पास पूर्वी जयंतिया हिल्स जिले के दावकी कस्बे के बीच से बहती है। वहीं वहां के लोग इसे पहाड़ियों में छिपा स्वर्ग भी कहते हैं। कहा जाता है इस सफाई की वजह यहां रहने वाले खासी आदिवासी समुदायों की पुरखों से चली आ रही परंपराएं हैं।

यहाँ सफाई इनके संस्कारों में है, और यहाँ के बुजुर्ग इसकी निगरानी करते हैं। मिली जानकारी के तहत उमनगोत तीन गांवों में से बहती है- 'दावकी, दारंग और शेंनान्गडेंग'। इन सभी गांवों के लोग सफाई करते हैं यह उनकी जिम्मेदारी है। यहाँ मौसम और पर्यटकों की संख्या के हिसाब से महीने में एक, दो या चार दिन कम्युनिटी डे के होते हैं। इन्ही दिनों में गांव के हर घर से कम से कम एक व्यक्ति नदी की सफाई के लिए आता है।

यहाँ गांव में करीब 300 घर हैं और सभी मिलकर सफाई करते हैं। जी हाँ और तो और गंदगी फैलाने पर 5000 रु। तक जुर्माना वसूला जाता है। आपको बता दें कि नवंबर से अप्रैल तक यहाँ सबसे अधिक पर्यटक आते हैं। वहीं मानसून में बोटिंग बंद रहती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि उमनगोत के पास के गांव मावलिननॉन्ग को एशिया के सबसे साफ गांव का दर्जा प्राप्त है।

चाँद पर बनी है इस शख्स की कब्र

शख्स ने कूकर से रचाई शादी

सोशल मीडिया पर छाई ये सेलेब डक

 

Recent Stories

1