Trending Topics

ट्रेन में बैग छूट जाए तो कहां मिलता है वापस? जानिए यहाँ

Know How do I get back lost luggage at the train Know All related rules about this

कई बार हम सभी के साथ जल्दबाजी में कुछ ऐसा हो जाता है कि हमारा दिमाग खराब हो जाता है. इसी लिस्ट में शामिल है जल्दबाजी में या किसी और कारण से ट्रेन में सामान छूटना. अगर ट्रैन में सामान छूट जाता है तो लोगों के दिमाग की ऐसी की तैसी हो जाती है. कई लोग सोचते हैं कि वह सामान अब मिलेगा नहीं हालाँकि ऐसा नहीं है. जी दरअसल सामान ट्रेन में रह जाने की स्थिति में भी आपका सामान वापस मिल सकते हैं. अब हम आपको बताते हैं आखिर ट्रेन में छुटा हुआ सामान कहां जाता है और इसको किस तरह से वापस प्राप्त किया जा सकता हैं. आइए बताते हैं.

ट्रेन में बैग छूट जाए तो क्या करना होगा?

अगर ट्रेन में बैग छूट जाए तो आप उसी स्टेशन पर रेल अधिकारियों के साथ आईपीएफ पुलिस को इसकी सूचना दें. ऐसा करने के अलावा आप आरपीएफ में इसकी एफआईआर भी दर्ज करवा सकते हैं. आपके ऐसा करने से रेलवे और पुलिस की जिम्मेदारी बनती है कि वो आपके सामान को ढूंढने का प्रयास करते हैं और अगर आपका सामान आपकी बताई गई सीट पर मिल जाता है तो उस निकटम आरपीएफ थाने में जमा करवा दिया जाता है. कई बार यह सामान शिकायत किए जाने वाले स्टेशन तक भी पहुंचा दिया जाता है. ऐसा होने के बाद यात्री को अपनी उचित जानकारी देकर और अपने दस्तावेज दिखाकर इसे वापस हासिल कर सकते हैं. इसी के साथ कई स्टेशन पर उनके घर पर सामान पहुंचाने की व्यवस्था भी की जा रही है. ऐसे में आपके सामान वापस मिलने की उम्मीद काफी ज्यादा रहती है.

रेलवे आपके सामान का क्या करता है?

आपको बता दें कि जब ट्रेन में आपका सामान छूट जाता है तो उसे स्टेशन पर जमा करवा दिया जाता है. वहीं अगर कोई रेलवे कर्मचारी या कोई यात्री स्टेशन पर किसी का सामान करवाता है तो उसे स्टेशन मास्टर जमा कर लेता है. इसके बाद हर सामान के आधार पर प्रक्रिया की जाती है. ऐसे में अगर इस सामान में कोई ज्वैलरी आदि है तो इसे 24 घंटे ही रेलवे स्टेशन पर रखा जाता है. अगर 24 घंटे में कोई इस सामान पर क्लेम करता है तो उसको दे देते हैं वरना सामान को अगले जोनल ऑफिस में भेज दिया जाता है.

क्या आप जानते हैं तांबे के बर्तन में खाने-पीने के नुकसान

आखिर क्यों CNG भरवाने से पहले आपको गाड़ी से उतरना पड़ता है?

भारतीय मिठाई नहीं है गुलाब-जामुन, जानिए कैसे पड़ा इसका नाम?

 

1