Trending Topics

मुंडन प्रथा करवाने की ये है खास वजह..

religious and scientific reasons behind mundan ceremony

हिन्दू धर्म के 16 संस्कारो में से एक है मुंडन संस्कार. नवजात शिशु के जन्म के बाद ही उसके बाल उतरवा दिए जाते है. और वैज्ञानिको के अनुसार भी मुंडन करवाना अनिवार्य होता है. शायद आप सभी लोगो को भी मुंडन करवाने की असल वजह नहीं पता होगी. आज हम आपको बच्चो के बाल मुंडवाने के पीछे का कारण बता रहे है.

पहला कारण ये है कि बच्चे जब माँ के गर्भ से बाहर आते है तो उनके सिर में बहुत से जर्म्स और बैक्टीरिया पाए जाते है जो बच्चो के लिए हानिकारक साबित होते है. ये कीटाणु सिर्फ बाल धोने से नहीं जाते है इसलिए बच्चो के बालो को मुंडवाना पड़ता है. 

दूसरा कारण ये है कि बच्चो के बाल मुंडवाने से उनके शरीर का तापमान भी बराबर रहता है. फोड़े, फुंसी, दस्त जैसी तमाम बीमारिया भी दूर रहती है साथ ही मुंडन करवाने से बच्चे का सिर और दिमाग ठंडा रहता है.

तीसरा कारण ये है कि बाल उतर जाने के बाद बच्चों के सिर पर सीधी धुप पड़ती है जिससे उनके कोशिकाएँ जागृत हो जाती है और नसों में अच्छे से रक्त संचालित कर पाती है.

मुंडन करवाने से बच्चो के दांत आने में भी ज्यादा तकलीफ नहीं होती है.

अतुल्य भारत की ऐसी जगह जहाँ आप मना सकते है नया साल

कन्नड़ के प्रसिद्द लेखक कुप्पाली वेंकटप्पा पुट्टप्पा को समर्पित किया गूगल ने डूडल

 

You may be also interested

Recent Stories

1