Trending Topics

आखिर क्यों होता है बालों का रंग सफ़ेद

why does hair turn white

हम सभी जानते ही हैं कि उम्र के साथ व्यक्ति कमजोर होता जाता है और देखते ही देखते उसके बाल भी सफ़ेद हो जाते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि बाल आखिर क्यों सफ़ेद होते हैं? अगर सोचा है और आपको नहीं पता तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर ऐसा क्यों होता है.

सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि क्यों होते हैं बाल काले

जी दरअसल बालों का कुदरती रंग हेयर फॉलिकल में पाए जाने वाले मेलेनिन पिग्‍मेंट के चलते होता है. मेलेनिन दो तरह के होते हैं: इयूमेलेनिन और फियोमेलेनिन. वैसे तो सामान्‍य तौर पर इयूमेलेनिन की वजह से बालों का रंग काला होता है लेकिन अगर इयूमेलेनिन की मात्रा कम होती है तो बालों का रंग हल्‍का काला होता है. कहा जाता है किसी भी व्‍यक्ति में मेलेन‍िन का लेवल कम होने के साथ बालों का रंग बदलता भी रहता है. वहीँ बालों के सफेद या ग्रे होने के पीछे असली वजह उम्र होती है. इसके अलावा केमिकल प्रोसेस के जरिए भी बालों का रंग बदला जा सकता है.

क्‍यों सफेद होते हैं बाल

हार्वर्ड मेडिकल स्‍कूल के एक रिसर्च के अनुसार हेयर फॉलिकल से बाल निकलने के साथ ही उसका रंग तय हो जाता है. ऐसे में एक बार किसी फॉलिकल से बाल निकलने शुरू हो जाते हैं तब से उसके रंग में कोई बदलाव नहीं होता है. हालाँकि समय के साथ यह फॉलिकल कम कलर प्रोड्यूस करते हैं और ऐसे में जब इन फॉलिकल्‍स से बालों का प्राकृत‍िक रूप से दोबारा ग्रोथ होता है, उस समय इस बात की संभावना होता है कि वहां से सफेद बाल ही निकले. इस रिसर्च के अनुसार बढ़ती उम्र के साथ बालों का रंग सफेद होने लगता है. लेकिन यह कब शुरू होता है और कितने बाल सफेद होंगे, ये अलग-अलग बातों पर निर्भर करता है. 

आखिर क्यों मिर्च लगती है इतनी तीखी

क्या सच में सूरज का रंग पीला है?

आज है हलषष्ठी, जानिए इस व्रत की कथा

 

1