Trending Topics

इस गांव में कभी भी सो जाते है लोग फिर महीनो बाद खुलती है नींद

this village is suffering from a mysterious sleeping disease

सोना किसे नहीं पसंद होता है. कुछ लोगो को नींद कुछ ज्यादा ही पसंद होती है और कुछ लोग तो ऐसे होते है जिन्हे नींद ही नहीं आती. लेकिन अगर दोनों में तुलना की जाए तो सोने वाले लोगो की ज्यादा संख्या है. आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बता रहे है जहां लोग जब चाहे तब सो जाते है. ये गांव कजाकिस्तान में है. इस गांव का नाम है कलाची. यहाँ जब लोगो का मन करे वो सो जाते है. कुछ तो जल्द उठ जाते है और कुछ लोग तो महीनो तक के लिए सो जाते है.

जी हाँ... यहाँ के लोगो का सोने के पीछे क्या कारण है इसका आज तक वैज्ञानिक भी पता नहीं लगा पाए है. इस गांव में लोग सोने की बीमारी से ग्रसित है.

इस गांव में कुल 600 लोग रहते है जिनमे से 14 फीसदी जनसँख्या इस बीमारी से ग्रसित है. ये लोग जब चाहे कही भी सो जाते है. इस वजह से इस गांव को 'स्लीपी हॉलो' के नाम से भी जाना जाता है.

इस बीमारी के बारे में साल 2010 में पता चला. हैरान कर देने वाली बात तो ये है कि इस बीमारी से ग्रसित लोगो को ये भी नहीं पता चलता है कि वो कब और कहा सो गए है. 

यहाँ बीमारों का इलाज लात-घूसे मारकर किया जाता है

इस मंदिर में सोने से महिलाएं हो जाती है प्रेग्नेंट

 

Recent Stories

1