Trending Topics

खोजबीन में मिला 5700 साल पुराना 'च्युइंग गम'

Scientists discover DNA of ancient woman on 5700 year old chewing gum

आए दिन देशभर में खोजबीन होती रहती है और उसमे कभी कभी कुछ ऐसी चीज़ें मिल जाती हैं जो चौकाने वाली होती हैं. ऐसे में हाल ही में  दक्षिणी डेनमार्क के सिलथोलम में पुरातात्विक खुदाई के दौरान वैज्ञानिकों को कुछ ऐसी ही हैरान करने वाली चीज हाथ लगी है. जी हाँ, यहाँ शोधकर्ताओं को यहां 5700 साल पुराना एक 'च्युइंग गम' मिला, जिसे देखने के बाद लोगों के होश उड़ गए. वहीं इसकी मदद से शोधकर्ताओं ने पाषाण युग की एक महिला के डीएनए का पता लगाने में सफलता हासिल की है.

वैसे ऐसा पहली बार हुआ है जब शोधकर्ताओं को मानव हड्डियों के अलावा एक अन्य नमूने की प्राप्ति हुई और इससे एक युग के इंसानों के डीएनए के बारे में पता लग सका. जी दरअसल कोपेनहेगन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अध्ययन के मुताबिक, 'च्युइंग गम' को जिस महिला ने चबाया था, उसके काले बाल और काली त्वचा थी जबकि आंखें नीली थीं और शोधकर्ताओं ने पाषाण युग की उस महिला का नाम लोला रखा है.

आप सभी को बता दें कि शोधकर्ताओं का कहना है कि, लोला जहां रहती थी, वहां के लोग मुख्य रूप से मछली पकड़ने का काम करते थे और जीविका चलाने के लिए शिकार करते थे और यह अध्ययन जर्नल नेचर कम्युनिकेशंस में बुधवार को प्रकाशित की गई है. ऐसे में शोधकर्ताओं ने यह भी बताया कि, ''उन्होंने एक भोजपत्र के पेड़ की राल के नमूने से पाषाण युग के मानव के आहार और उनके मुंह में मौजूद कीटाणुओं के बारे में भी पता लगा लिया है और यह खोज वैज्ञानिकों को यह समझने में मदद कर सकती है कि कीटाणु हजारों वर्षों में कैसे बदल जाते हैं और भविष्य में और विकसित हो सकते हैं.''

इस मंदिर में है महिषासुर का रक्त, देखते ही लोग हो जाते हैं अंधे

यहाँ पंडित बनकर नाग देवता करते हैं शिवलिंग की पूजा

रावण की मौत की पीछे की वजह थी सूर्पणखा, जानिए कैसे

 

You may be also interested

Recent Stories

1