Trending Topics

कोलकाता की सड़कों पर दिखा नवरात्रि का रंग, बनाई गई बड़ी बड़ी रंगोलियां

Longest Alpona in Kolkata

या देवी सर्वभूतेषु शक्ति-रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्त्स्यै नमस्त्स्यै नमो नम:। 


 नवरात्री के इस मन्त्र से हम सभी वाकिफ है।  माँ दुर्गा को खुश करने के लिए यह मन्त्र बोला जाता है। साथ ही इस बात से भी हम सभी वाकिफ भी है की आज से सभी जगहों पर नवरात्रे शुरू हो चुके है और यह नवरात्रि का त्यौहार बंगालियों का सबसे ख़ास त्यौहार माना जाता है। यहाँ पर काफी धूम धाम से माँ दुर्गा की पूजा होती है जो बहुत से लोगो ने देखी ही होगी। यहाँ पर कोलकाता में दुर्गा पूजा का ऐसा स्वरूप देखने को मिलेगा जो किसी ने कभी नहीं देखा होगा। आप सभी को पता ही होगा की महालया के साथ ही शारदीय नवरात्र प्रारम्भ हो जाते है और शास्त्रों की माने तो ऐसा कहा जाता है "महालया के दिन ही देवताओं ने देवी दुर्गा से महिषासुर का अंत करने की प्रार्थना की थी। ये एक तरह का निमंत्रण है मां के लिए, कि वो कैलाश से अपनी संतानों को लेकर धरती पर आएं और बुरी शक्तियों से हमारी रक्षा करें। ऐसा भी कहा जाता है कि धरती पर आगमन के लिए, मां दुर्गा महालया के दिन ही कैलाश से प्रस्थान करती हैं" 

इस दिन बंगाल में काफी जश्न का माहौल होता है इस दिन बंगालियों के यहाँ बीरेंद्र कृष्णा भाद्र की आवाज़ में मंत्र सुने जाते है साथ ही दुर्गा पूजा की तैयारी, बड़ा सा आरम्भ, बहुत बड़ी रंगोली आदि बनाई जाती है। आइए देखते है इस वीडियो में जो बहुत ही सुंदरता से दुर्गा पूजा का परिचय देता है।

मिडिल क्लास लोगों को झेलनी पड़ती है ये सभी समस्याएं

सड़क पर जोर जोर से गाते नजर आए लोग बोल न आंटी आउ क्या

(VIDEO) जब लड़की बोलने लगती है ज्यादा इंग्लिश तो यही होता है हाल

Recent Stories

1