Trending Topics

इस वजह से हो गई थी देवी राधा की मृत्यु

What happened to Radha after Krishna moved to dwarka

आप शायद ही जानते होंगे कि राधा और कृष्ण का प्रेम अमर है और दोनों में जितना प्यार था उतना कही नहीं है लेकिन राधा की मृत्यु हो गई थी. जी हाँ, राधा और कृष्ण एक दूसरे से बहुत ही प्रेम करते थे उनके प्रेम की याद में आज वृंदावन में कई मंदिर बने हुए हैं लेकिन आज हम आपको राधा की मृत्यु के बारे में बताएंगे. जी दरअसल राधा की मृत्यु के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं और बहुत कम लोगों को पता है इसके पीछे की कहानी जो आज हम आपको बताने जा रहे हैं. आइए जानते हैं वह कहानी. 

कथा

जब श्री कृष्ण कंस के वध के लिए एवं दुनिया की भलाई के लिए मथुरा जाने लगे थे तो वह राधा को नंद गांव में ही छोड़ गए थे. जब वह गांव छोड़कर जा रहे थे तो रास्ते में उनको राधा मिली. भगवान श्री कृष्ण ने राधा को अपनी मजबूरी बताइ तथा मथुरा जाने के बाद और पुनः राधा से मिलने आएंगे ऐसा राधा से वचन करके वह मथुरा चले गए थे. जब भगवान श्री कृष्ण जा रहे थे. तब राधा यमुना के किनारे एक पेड़ के नीचे बैठ गई और दिन रात कृष्ण की याद में आंसू बहाने लगी.

राधा ने इतने आंसू बहाए की यमुना की नदी के आसपास की मिट्टी दलदली हो गई और राधा की इसी दलदल में धँसकर मृत्यु हो गई. जब इस बात का पता श्री कृष्ण को चला तो वह तुरंत राधा से मिलने के लिए आए लेकिन राधा उनको वहां नही मिली थी. जानकारों का कहना है की आज भी निधिवन में श्री कृष्ण राधा से मिलने आते हैं और उसके साथ रास रचाते हैं. आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे कमेंट में इसके बारे में अवश्य बताए. और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दुसरो को भी इसका फायदा मिल सके.

इस वजह से सन्डे को होती है सबकी छुट्टी

इंग्लिश अल्फाबेट का आखिरी अक्षर Z नहीं है, जानिए फैक्ट्स

अपने पुत्र को ही श्री-कृष्णा ने दे दिया था श्राप

 

Recent Stories

1