Trending Topics

इस मंदिर में सिगरेट पीते हैं भोलेनाथ

Mahadev smoking in Lutru Mahadev Temple in Arki

दुनिया में ना जाने कितने ही ऐसे मंदिर है जो बहुत ही अजीब नक्काशियों और अपनी अजीब कहानियों की वजह से पॉपुलर है. दुनिया में ना जाने कितने ही ऐसे मंदिर, मस्जिद, गुफाएं है जो अपने अजीब तरह के दृश्यों के लिए पॉपुलर है. आज हम आपको भी एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बताने जा रहें है जिसके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे. जी हम बात कर रहें हैं आज से करीब हज़ारों साल पुराने एक शिव मंदिर की जो हिमाचल प्रदेश के अर्की सोलन जिले में साल 1621 में बनाया गया था.

इस मंदिर की खासियत सुनकर सभी हैरान रह जाते हैं. इस मंदिर में भगवान शिव की शिवलिंग है जिसे लोग लुटरू महादेव के नाम से जानते हैं. इस शिवलिंग पर लोग हर दिन जल, धतुरा या भांग चढ़ाने नहीं बल्कि सिगरेट चढ़ाने आते हैं. जी हाँ, सिगरेट. इस गाँव के लोगों का मानना है कि यहाँ के लुटरू महादेव को सिगरेट का शौक हैं और वह सिगरेट पीने के शौकीन है.

इस वजह से यहाँ पर लोग हर दिन लम्बी कतारों में खड़े हो जाते हैं और उसके बाद शिवलिंग के आस-पास बने गड्ढे में सिगरेट चढ़ाकर जाते हैं और अपनी मन्नत भी मांगते हैं. कहा जाता है कि सिगरेट चढ़ाने और मननात मांगने से सभी के काम सफल हो जाते हैं और जयकारे लगाने से भगवान खुश होते हैं और फल जल्दी मिल जाता है. यहाँ पर भगवान शिव के शिवलिंग पर सिगरेट रखते ही वह सुलगने लगती हैं और उसी वक्त भक्त जमकर शिव भगवान के जयकारे लगाते हैं. कई जगहों से, विदेशों से भी यहाँ लोग केवल भगवान का शंटकार देखने सिगरेट लेकर आते हैं. 

इस गांव में जश्न मनाकर निकाली जाती है शवयात्रा

इस शख्स के कारण मिलती है हमें संडे की छुट्टी

इस गांव में रहने वाला हर इंसान हैं बौना

 

You may be also interested

1