Trending Topics

यहाँ है उलटे हनुमान की मूर्ति, लोग करते हैं पूजा

Hanuman Mandir In Sanwer Indore Madhya Pradesh

दुनियाभर में कई ऐसे मंदिर हैं जो अपने किसी न किसी बात, कारण के वजह से सुर्ख़ियों में रहते हैं. ऐसे में इंदौर शहर से करीब 30 किलोमीटर दूर सांवेर गांव में हनुमान जी का अद्भुत मंदिर है और वहां हनुमान जी सिर के बल उल्टे खड़े हैं. जी हाँ, आपको बता दें कि इस प्राचीन मंदिर में स्थापित हनुमान जी की उल्टी प्रतिमा विश्व की इकलौती प्रतिमा है, जो लोगों की आस्था का प्रमुख केंद्र हैं और लोग हनुमान जी की अद्भुत प्रतिमा के दर्शन करने देश भर से आते हैं. इसी के साथ इस मंदिर में हनुमान जी के साथ भगवान श्रीराम, माता सीता, लक्ष्मण और शिव-पार्वती की भी मूर्तियां भी स्थापित है. कहा जाता है मंदिर में अगर कोई व्यक्ति तीन या पांच मंगलवार तक बजंगबली जी के दर्शनों के लिए लगातार आता है, उसके सभी कष्ट दूर हो जाते हैं और उसे सुख ही सुख मिलता है.

यहां मंदिर में मंगलवार को हनुमानजी को चोला चढ़ाने की भी मान्‍यता है और मंदिर में स्थित हनुमान जी की प्रतिमा को अत्यंत चमत्कारी कहते हैं. जी दरअसल इसके पीछे कहानी बताई जाती है कि, ''रामायण के समय में भगवान श्री राम व रावण का युद्ध हो रहा था तब अहिरावण ने एक चाल चली और खुद अपना रूप बदलकर अपने को राम की सेना में शामिल कर लिया. इसके बाद रात के समय जब सब सो रहे थे तब अहिरावण ने अपनी शक्ति से श्री राम एवं लक्ष्मण जी को मूर्छित कर उनका अपहरण कर लिया. वह उन्हें अपने साथ पाताल लोक में ले गया और जब वानर सेना को इस बात का पता चलता है तो चारों ओर हड़कंप मच गया. हनुमान जी भगवान राम व लक्ष्मण जी की खोज में पाताल लोक पहुंचे और वहां पर अहिरावण का वध उन्होंने भगवान राम और लक्ष्‍मण को वापस ले आए.''

ऐसा माना जाता है सांवेर ही वह जगह थी जहां से हनुमान जी पाताल लोक की और गए थे और उस समय हनुमान जी के पांव आकाश की ओर तथा सर धरती की ओर था इसी वजह से उनके उलटे रूप की पूजा प्रतिमा आज भी वहां है.

इस वजह से लोगों के चिन पर होते हैं डिम्पल

जल्द गायब होने वाला है लाल रंग का सेब

यहाँ होती है मछलियों की बारिश, जानिए पीछे का लॉजिक

 

You may be also interested

Recent Stories

1