Trending Topics

आखिर क्यों शुक्रवार को ही रिलीज होती हैं फ़िल्में

Why are movies released only on Friday in India

हर चीज के पीछे कुछ ना कुछ कहानी या लॉजिक होता है। अगर आप भी इस बात को तो मानते हैं तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं की आखिर क्यों शुक्रवार के दिन ही रिलीज होती हैं फ़िल्में। जी हाँ, इसके पीछे एक लॉजिक है जो आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

क्या है लॉजिक

कहा जाता है हिंदुस्तान में फ़्राइडे फ़िल्म रिलीज़ करने की शुरूआत साल 1950 के आखिरी में हुई थी। जी दरअसल ‘मुग़ल-ए-आज़म‘ हिंदी सिनेमा की पहली फ़िल्म थी, जिसे शुक्रवार को रिलीज़ किया गया था। यह फ़िल्म 5 अगस्त 1960 में रिलीज़ हुई थी और ‘मुग़ल-ए-आज़म‘ की सफ़लता ऐसी रही कि सभी देखते ही रह गए। इस सफलता को देखते हुए प्रोड्यूसर्स ने शुक्रवार को फ़िल्म रिलीज़ करने का मन बना लिया और उसके बाद फ़िल्में केवल शुक्रवार के दिन रिलीज होने लगी।

एक और है लॉजिक

कहा जाता है हिंदुस्तान में शुक्रवार को फ़िल्म रिलीज़ करने का आईडिया हॉलीवुड से चुराया गया है। हुआ यूँ कि हॉलीवुड फ़िल्म ’Gone With the Wind’ शुक्रवार को रिलीज़ हुई थी और यह फिल्म सुपरहिट साबित हुई। केवल इतना ही नहीं बल्कि इस फ़िल्म को कई अवॉर्ड्स भी मिले थे। इसी को देखते हुए बॉलीवुड ने फ़िल्म फ़्राइडे रिलीज़ करने का मन बनाया है। वैसे इसकी शुरूआत ‘मुग़ल-ए-आज़म‘ से हुई थी और यह सबसे सफल फिल्मों से एक है। 

एक लॉजिक यह भी है

जी दरअसल इसका एक कारण वीकेंड भी माना जाता है। आप सभी जानते ही होंगे वीकेंड पर अधिकतर लोग काम से फ़्री होकर मस्ती करना चाहते हैं। ऐसे में अगर फ़िल्म फ़्राइडे रिलीज़ होगी, तो वीकेंड पर कलेक्शन अच्छा होता है, जो कि अब तक होता आया है। वैसे कई प्रोड्यूर्स का यह भी मानना है कि शुक्रवार को फ़िल्म रिलीज़ से उन पर लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी।

इस पांच फिट लंबी थाली में क्रिकेटर्स के नाम पर हैं पकवानों के नाम, 1 घंटे में खत्म करने पर मिलेगी बुलेट

इस गाँव में रहते हैं मात्र 100 लोग

 

You may be also interested

1