Trending Topics

आखिर क्यों जन्मदिन पर बुझाई जाती है मोमबत्ती?

Why Do We Blow Out Birthday Candles

लोग जन्मदिन मनाते हैं तो केक पर मोमबत्ती लगाकर बुझाते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि मोमबत्ती क्यों बुझाते हैं? आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर ऐसा क्यों किया जाता है.? 

जी दरअसल बर्थ डे केक पर मोमबत्तियां लगाने और बुझाने की परंपरा प्राचीन ग्रीस (यूनान) से आई है. जी हाँ, इस परंपरा की शुरुआत उस समय की गई थी जब ग्रीस के लोग केक पर जलती हुई मोमबत्तियां लेकर अपने भगवान के पास जाते थे. वहीं भगवान के पास पहुंचकर ये लोग मोमबत्तियों से ग्रीक भगवान का चिह्न बनाते थे. वहीं चिह्न को बनाने के बाद इन मोमबत्तियों को बुझा दिया जाता था. जी दरसल यूनानी लोग मोमबत्तियों के धुएं को शुभ मानते हैं. उन लोगों का मानना है कि मोमबत्तियों का उड़ता धुआं सीधे भगवान के पास जाता है.

इसके अलावा कुछ तथ्य में यह भी बताया गया हैं कि केक पर मोमबत्तियां लगाने की परंपरा जर्मनी की देन है. जी दरअसल साल 1746 में पहली बार केक के ऊपर कैंडल लगाई गई और यह वह समय था जब धार्मिक और सामाजिक सुधारक निकोलर जिंजोनडार्फ का बर्थडे था. उस दिन बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा होकर सामने आए और केक के ऊपर मोमबत्तियां जलाकर इनके बर्थडे को पर्व की तरह मनाया था.

आखिर क्यों रविवार को नहीं तोड़ते तुलसी का पत्ता

आखिर क्यों बरसात में गिरती है बिजली?

पानी में रहने से क्यों सिकुड़ जाती है त्वचा, जानिए राज

 

1