Trending Topics

पचास साल बाद लौटाई गई लाइब्रेरी की किताब और भरा गया पूरा फाइन

Library book returned after 50 years with a surprise inside

हम सभी यह जानते हैं कि किताबे पढ़ने के लिए हमे केवल और केवल लाइब्रेरी में जाना होगा. वैसे दुनिया में सुकून भरी जगह में लाइब्रेरी भी शामिल है. यहाँ मिलने वाला सुकून कही और नहीं मिलता. वैसे ज्यादातर लोग लाइब्रेरी से अपने घर किताब पढ़ने के लिए ले जाते हैं और फिर कुछ दिनों बाद उसे वापस भी कर देते हैं. वहीं कुछ लोग ऐसे भी मिलते हैं, जो कभी किताबें वापस ही नहीं करते. लेकिन आज हम आपको उनके बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने पचास साल बाद लाइब्रेरी की किताब वापस की और पूरा फाइन भी चुका दिया. जी हाँ, हाल ही में मिली जानकारी के तहत आधी सदी पहले ले जाई गई एक किताब को अंजान तरीके से उत्तरपूर्वी पेंसिल्वेनिया की लाइब्रेरी को हाल ही में लौटाया गया है. इस बारे में विल्केस-बैरे सिटीजन्स वॉयस की एक रिपोर्ट में बताया गया है. 

इस रिपोर्ट के अनुसार बर्टन हॉब्सन की लिखी गई किताब “कॉइन्स यू कैन कलेक्ट” की 1967 की प्रति पिछले महीने लुज़र्न काउंटी के प्लायमाउथ पब्लिक लाइब्रेरी में 1,483 रुपए के हर्जाने के साथ वापस लौटाई गई. इस किताब के साथ में एक लेटर भी था जिसमें लिखा गया था कि पचास साल पहले एक छोटी लड़की ने 1971 में इस किताब को लाइब्रेरी से लिया था. ोिस लेटर में लिखा गया है, ''जैसा कि आप देख सकते हैं, उसने मेरी बहुत अच्छी देखभाल की.''

यह लेटर लिखने वाली महिला ने आगे लिखा, 'वह अक्सर किताब को वापस करने के बारे में सोचती थी, लेकिन उसे मौका नहीं मिल पा रहा था कि वो किसी तरह से किताब वापस कर सके.' इसके अलावा लेटर में ये भी लिखा गया कि, 'वह जानती थी कि उसे 20 डॉलर का जुर्माना नहीं लगेगा.' इस बारे में लाइब्रेरी की निदेशक लौरा केलर का कहना है कि, 'ये लेटर और किताब दोनों जल्द ही प्रदर्शित किए जाएंगे.'

ड्रेगन की आँख जैसी दिखती है ये झील

OMG! 12 साल में एक बार खिलता है ये फूल

सीधी गर्दन पर पंख उल्टे करके उड़ रहा पक्षी, जानते हैं कौन है ये

 

Recent Stories

1