Trending Topics

प्रेग्नेंसी के दौरान मां के साथ पिता में भी दिखते हैं ये लक्षण

men experience pregnancy symptoms

प्रेग्नेंसी के दौरान एक महिला में बहुत से बदलाव आते हैं लेकिन इस दौरान एक पुरुष में भी बदलाव आते हैं. जी हाँ, पिता बनने से पहले पुरुष में भी कई प्रकार के बदलाव देखने को मिलते हैं और आज हम आपको उन्ही के बारे में बताने जा रहे हैं.

कहा जाता है पुरुषों में एक हार्मोन होता है, जिसे टेस्टोस्टेरोन कहते है. वैसे तो इस हार्मोन को ही पौरुष शक्ति के रूप में देखा जाता है और इस हार्मोन का पुरुषों की आक्रामकता, प्रतियोगिता और यौन क्षमता से सीधा संबंध है. कुछ स्टडी में यह पाया गया है कि जब एक आदमी पिता बन जाता है, तो उसके टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होने लगता है. यही वजह है कि आदमी का ध्यान बाहर की चीज़ों से हटकर अपने परिवार पर केंद्रित हो जाता है.

कहा जाता है ऑक्सीटोसिन और डोपामाइन दो रसायन हैं जो माता-पिता और बच्चे के बीच भावनात्मक रिश्ते के लिए ज़िम्मेदार हैं. ऐसे में जब टेस्टोस्टेरोन का स्तर गिरता है, तो इसका एक सकारात्मक असर ऑक्सीटोसिन और डोपामाइन पर पड़ता है और ये बढ़ने लगते हैं. ऐसा होने के चलते एक पिता जब अपने बच्चों के साथ खेलता है या फिर उन्हें गले लगाता हो, तो उसे अच्छा महसूस होता है.

आप सभी ने महिलाओं में प्रसव के बाद होने वाले डिप्रेशन के बारे में सुना होगा, लेकिन ऐसे ही लक्षण पुरुषों में भी देखने को मिलते हैं. जी हाँ, टेस्टोस्टेरोन पुरुषों को अवसाद का शिकार होने से भी बचाता है, लेकिन जब इन हार्मोन का स्तर गिरने लगता है, तब पुरुष आसानी से डिप्रेशन में चला जाता है. कहते हैं नए पिता की ज़िम्मेदारियों के भार के साथ-साथ हार्मोनल चेंज पुरुषों के मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करता है.

You may be also interested

Recent Stories

1