Trending Topics

आजादी के बाद से इतना बदल गया हमारा हिंदुस्तान

major Changes after independence in india

15 अगस्त 2017 को हम अपना 70वा स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे, ठीक 70 साल पहले इसी दिन देश को अंग्रेजो की 200 साल की गुलामी से आज़ादी मिली थी. तब से लेकर आज तक इस दिन को आज़ादी के जश्न के तौर पर मनाया जाता है. इस दिन देश भर में आपको जगह जगह बच्चे और युवा तिरंगा थामे नज़र आ जायेंगे. साथ ही इस दिन हर बड़े छोटे संस्थान और सार्वजनिक जगहों पर आज़ादी के जश्न के तौर पर झण्डावंदन किया जाता है. इस दिन हर किसी में चमत्कारिक देशभक्ति का भाव देखा जा सकता है. जो अगले दिन ही गायब हो जाती है.

आज़ादी के दिन से लेकर आज तक भारत ने कई उपलब्धियां हासिल की है. जो लाजवाब होने के साथ ही अविश्वसनीय है. आज भारत दुनिया में तेज़ी से उभरती विशाल शक्ति है. जिसका सभी बड़े देश आदर और इज़्ज़त दोनों करते है. इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह है हमारी उपलब्धियां, जिनसे पूरा विश्व परिचित है. इसी सिलसिले में आईये आपको बताते है आज़ादी के बाद से लेकर अब तक हमारा देश कितना बदल गया है?

रोड नेटवर्क

- 5,472,144 किलोमीटर के  के साथ भारतीय रोड नेटवर्क दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा रोड नेटवर्क है. 
- आज़ादी के वक़्त हमारे पास एक भी एक्सप्रेसवे नहीं था.
- भारत में रोड नेटवर्क के विस्तार के लिए 15 जून 1989 को नेशनल हाइवेज अथॉरिटी का गठन किया गया था. 
- आज देश में 97,991 किलोमीटर लम्बे नेशनल हाईवे और करीब 167,109    किलोमीटर लम्बे स्टेट हाईवे मौजूद है.

राजनीती

 - आज़ादी में अहम् योगदान निभाने वाली देश की सबसे पुरानी राजनीती पार्टी कांग्रेस देश के ज्यादातर हिस्सों से ख़त्म हो चुकी है. 
- आज़ादी के वक़्त राजीनीति को गाँधी-नेहरू परिवार की जागीर माना जाता था. आज एक चाय बेचने वाला देश का प्रधानमंत्री है. 
- दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में आपको राजनीती के सभी आयाम देखने को मिल जायेंगे. 

शिक्षा

- आज़ादी के वक़्त भारत की साक्षरता दर केवल 12 फीसदी थी. 
- जो की बढ़ कर 74 फीसदी तक पहुंच गयी है.
- 2011 जनगणना के अनुसार, पुरुषो की साक्षरता दर 82.14 फीसदी और महिलाओ की 65.46 फीसदी है. 

महिला शशक्तिकरण

- बेशक महिला सुरक्षा आज भी हमारे देश में एक अहम् मुद्दा है. लेकिन इसके बावजूद हमने आज़ादी के बाद से लेकर अब तक महिला शशक्तिकरण से जुडी कई उपलब्धियां हासिल की है.
- महिलाओ राजनीतिज्ञों की गिनती में भारत सबसे आगे है.
- देश के 5 प्रमुख राज्यों में महिला CM अपनी सेवाएं दे चुकी है. वर्तमान में भी 3 महिला CM रजयो की प्रनुख है. 
- इंडिया गाँधी के रूप में प्रधानमंत्री मिलने पर भारत वह पहला देश बना था. जिसकी प्रमुख एक महिला थी. 
- प्रतिभा पाटिल(2007 से 2012) देश की पहली महिला राष्ट्रपति रही है.

You may be also interested

Recent Stories

1