Trending Topics

यहाँ माँ काली के लिए चलता है AC

Navratri 2022 jabalpur maa maha kali temple sweat come out of statue in jabalpur madhya pradesh

आजतक आप सभी ने कई मंदिरों के बारे में सुना और पढ़ा होगा। अब आज हम आपको जिस मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं उसके बारे में जानने के बाद आप कहेंगे omg। जी दरअसल हम आपको बताने जा रहे हैं एक मंदिर के बारे में जो जबलपुर में स्थित है। यह मंदिर माता काली का है और माता के लिए यहाँ हमेशा एसी चलता है। जी हाँ, यहाँ एसी के बिना मां काली की प्रतिमा से पसीना निकलने लगता है, और कुछ ही पलों में हालात ऐसे बन जाते हैं कि पुजारियों को माता काली की प्रतिमा के परिधान कई कई बार बदलने पड़ जाते हैं। 

जी हाँ, इसी के चलते यहाँ माँ के लिए एसी चलता है। हालाँकि मां काली की प्रतिमा से पसीना क्यों निकलता है यह सदियों से रहस्य बना हुआ है? शुरुआत में इस मंदिर में कूलर की व्यवस्था कराई गई थी लेकिन अब मां काली को पसीने से निजात दिलाने के लिए मंदिर समिति ने एसी की व्यवस्था कराई है। आपको बता दें कि नवरात्रि में अपनी मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए भक्त यहां पूजा करने पहुंचते हैं। आपको बता दें कि यह मंदिर संस्कारधानी जबलपुर में स्थित है, जिस बंजारों की काली मां का मंदिर भी कहा जाता है। 

यहां काली के दरबार में कई रहस्य छुपे हुए हैं। जी दरअसल मंदिर की प्रमुख मान्यता यह है कि अगर मंदिर में लाइट बंद हो जाए तो मां को पसीना इतना आता है कि कई वस्त्र बदलने पड़ जाते हैं। आपको बता दें कि मंदिर में 24 घंटे एसी चलता रहता है ताकि मां को पसीना ना आने पाए। मंदिर में एसी लगाने के पीछे माता काली को पसीने से बचाने की दलीले सुनकर यहां आने वाले भक्तजन भी हैरत में पड़ जाते हैं। जब माँ को गर्मी सहन नहीं होती तो श्रद्धालुओं ने पहले वहां कूलर लगवा दिया लेकिन उसके बाद भी जब मां काली को पसीना आता रहा, तब वहां एसी लगवा दिया गया है। अब माँ सुकून से रहती हैं।

जांघ पर टैटू बनवाना इस महिला को पड़ा भारी, हुई अस्पताल में भर्ती

ये है भारत का सबसे छोटे नाम वाला रेलवे स्टेशन

जब जाल में मछली की जगह फंस गई थी माता रानी की प्रतिमा, जानिए क्या हुआ?

 

You may be also interested

Recent Stories

1