Trending Topics

हमेशा गर्म रहता है इस कुंड का पानी

gurudwara sahib manikaran in himachal pradesh

भारत के पहाड़ी इलाक़े से कई बार रोचक खबरें आती हैं जिन्हे सुनकर या पढ़कर हम हैरान हो जाते हैं. अब आज हम आपको हिमाचल प्रदेश के एक ऐसे रहस्यमयी कुंड के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां बर्फ़ीले दिनों में भी पानी खौलता रहता है. यह पढ़कर आप यकीन तो नहीं करेंगे लेकिन यह सच है.

जी दरअसल यह रहस्ययमी कुंड मौजूद है गुरुद्वारा मणिकर्ण साहिब में, जो हिमाचल प्रदेश के कुल्लू ज़िले में पार्वती नदी के पार्वती घाट पर स्थित है. मिली जानकारी के तहत यह 1760 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और कुल्लू मुख्य शहर से यहां तक की दूरी 35 किमी बताई जाती है. आप सभी को बता दें कि गुरुद्वारे के मणिकर्ण नाम के पीछे एक पौराणिक कथा भी है. ऐसा माना जाता है कि इस धार्मिक स्थल पर भगवान शिव और माता पार्वती ने 11 हज़ार वर्षों तक तपस्या की थी. इस बीच जलक्रीड़ा के दौरान माता पार्वती के कानों की बाली में से एक मणि पानी में गिर गई थी.  

ऐसे में भगवान शिव ने अपने शिष्यों को मणि ढूंढ़ने का आदेश दिया, लेकिन शिष्य नाकामयाब रहे. इसी बात से भगवान शिव नाराज हो गए और उनकी तीसरी आंख खुली. उनकी तीसरी आंख खुलते ही वहां नैना देवी शक्ति प्रकट हुई, जिन्होंने बताया कि मणि पाताल लोक में शेषनाग के पास है. इसके बाद सभी देवता शेषनाग से वो मणि लेकर आ गए, लेकिन, इस बात पर शेषनाग बहुत क्रोधित हुए और उन्होंने ज़ोर से ऐसी एक फुंकार भरी कि गर्म पानी की एक धारा वहां से फूट पड़ी. वहीँ इस कुंड में है. अब यह स्थल सिखों के साथ-साथ हिंदुओं के लिए भी एक धार्मिक स्थल बन चुका है. कहते हैं इस पानी में स्नान करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है.

जानिए कौन है Mooning Mona Lisa, सोशल मीडिया पर हो रही वायरल

ये है दुनिया का सबसे दुर्लभ गुलाब

 

 

You may be also interested

1