Trending Topics

आखिर क्यों भोले बाबा को नहीं चढ़ती हल्दी?

Never offer HALDI TO Lord Shiva this month of SAWAN

आज सावन का आखिरी सोमवार है. ऐसे में आप जानते ही होंगे कि सावन के महीने में शंकर भगवान का पूजन होता है। वैसे सोमवार का दिन भगवान शंकर का होता है और उनकी पूजा और व्रत रखने का दिन होता है। वैसे भगवान शिव जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता है और उनकी खुश करने के लिए दूसरे किसी देवी-देवता की तरह अच्छे पकवान और सुंदर आभूषण अर्पित करने की कोई जरुरत नहीं होती है। बल्कि शिव जी तो पानी से अभिषेक करने पर ही मान जाते हैं. हम सभी जानते हैं हर शुभ कार्य और पूजा में हल्दी का प्रयोग किया जाता है लेकिन शिवजी की पूजा में हल्दी का प्रयोग वर्जित माना जाता है।


 

जी दरअसल शिवजी के अलावा सभी देवी-देवताओं की पूजा में हल्दी अर्पित की जाती है। कहते हैं शास्त्रों में बताया गया है कि शिवलिंग पुरुष तत्व का प्रतीक है और हल्दी स्त्रियों से संबंधित है  इस वजह से भोले बाबा को हल्दी नहीं चढ़ाई जाती है। वहीँ अगर आप शिवजी की पूजा में हल्दी का प्रयोग करते है तो इससे आपकी पूजा बेकार हो जाती है और आपकी पूजा का फल नहीं मिल पाता है।

इस वजह से कभी भी भूलकर भी शिवलिंग पर हल्दी नहीं चढ़ानी चाहिए। वैसे शिवजी के अलावा सभी देवी-देवताओं को हल्दी अर्पित की जाती है। आप जानते ही होंगे हल्दी का प्रयोग सौंदर्य को निखारने के लिए किया जाता है, और शास्त्रों में शिवलिंग पुरुषत्व का प्रतीक बताया गया है।

आखिर क्यों होता है ताले में छेद

सावन: आखिर क्यों भोलेनाथ पहनते हैं बाघ की खाल

आखिर क्यों 15 अगस्त को उड़ाई जाती है पतंग

 

1