Trending Topics

इन्दौरी तड़का : भिया अपने बेस्ट फ्रेंड से जादा ऐबला कोई नी होता

  • November 22, 2017
  • OMG!
indori tadka : bhiya apne best friend se jaada ebla koi ni hota

हाँ बड़े अपने इंदौर की बात की जाए तो यां पे सबसे ऐबला गर कोई होता है तो वो है अपना बेस्ट फ्रेंड। मतलब नी नी करके बी उसको का बात को दस बार समझाना ही पड़ता है।  ऊपर से उसके नाटक की बात करो तो वो 1700 अलग से रेते है. बड़े कसम से अगर इंदौर वाले बेस्ट फ्रेंड को देख ले ना कोई तो उनमे पिचर बना के रिलीज कर दें।  अब करे बी क्या होते ही वो ऐसे चूतिया टाइप के है कि क्या बोलो।  बड़े अगर तुम इनके साथ कई चले जाओ तो खुद तो सौ जूते खाएंगे ही साथ में तुमको बी खिलाएंगे। मतलब बड़े ऐसे ऐसे चूरतियापे लगा के रखे है ना इन लोगो ने की क्या बोलो। यां जैसे दोस्त मिलते है  वैसे कई और मिल जाए तो बात ही क्या हो। 

बड़े इंदौर के बेस्ट फ्रेंड जित्ते पगले होते है ना उत्ते कई और तो मिल ही नी सकते है।  भिया कसम से मजे ला देते है ये दोस्त जैसे बी होते है अपने ही होते है। कसम से यां के बेस्ट फ्रेंड अगर मिल जाए ना तो समझो तुम्हारी किस्मत भोत सईसाट है। भिया यां पे बेस्ट फ्रेंड ऐसे ही पड़े हुए रस्ते में नी मिल जाते बड़े जतन के बाद तो कई नजर आते है और फिर वो साथ देते है तो लपक के देते ही जाते है। इसलिए यां पे बेस्ट फ्रेंड सिर्फ फ्रेंड ही नी भई या भेन  होते है। 

इन्दौरी तड़का : भियाओ, सूटर और कम्मल निकाल लो

इन्दौरी तड़का : हाँ भिया पुराने सूटर में पैसे वैसे मिले की नी

इन्दौरी तड़का : हाँ बड़े अब ठंड की चपेट लगातार लगती जाएगी

इंदौरी तड़का : बाइक से नापने चले ये भिया पूरी दुनिया

इन्दौरी तड़का : भिया ये पद्मावती पद्मावती कुछ जादा नी हो गया

 

You may be also interested

1